यस बैंक मे अंबानी सहित 60 बड़ी कंपनियों ने जमकर किया घोटाला - किरीट सोमैया

सोमैया ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो जारी यह आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि यस बैंक से कर्ज लेकर नहीं चुकाने वालों में अनिल अंबानी समूह, एस्सेल समूह, डीएचएफएल और जेट एयरवेज जैसी कंपनियां शामिल रही हैं।

यस बैंक मे अंबानी सहित 60 बड़ी कंपनियों ने जमकर किया घोटाला - किरीट सोमैया

येस बैंक घोटाले को लेकर बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने अंबानी ग्रुप सहित बड़ी कंपनियों पर 60 हजार करोड़ के घोटाले का आरोप लगाया है। उन्होंने 10 कंपनियों की सूची जारी की है जो इस घोटाले के सबसे बड़े डिफॉल्टर्स हैं। सोमैया ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो जारी यह आरोप लगाया है।

 उन्होंने कहा कि यस बैंक से कर्ज लेकर नहीं चुकाने वालों में अनिल अंबानी समूह, एस्सेल समूह, डीएचएफएल और जेट एयरवेज जैसी कंपनियां शामिल रही हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में कई नामी कंपनियों के नाम लिए हैं जिनमें  निम्नलिखित कम्पनियाँ शामिल हैं।
Anil Ambani Group - 12,800 करोड़ रुपए,
Essel Group - 8,400 करोड़ रुपए,
DHFL Group - 4,735 करोड़ रुपए,
IL&FS - 2,500 करोड़ रुपए ,
Jet Air - 1,100करोड़ रुपए,
Cox & Kings, Go Travel - 1,000 करोड़ रुपए,
BM Khaitan Group - 1,250 करोड़ रुपए ,
Omkar Realtors - 2,710 करोड़ रुपए,
Radius Developers - 1,200 करोड़ रुपए ,
C G Power Thapar Group -500 करोड़ रुपए 

यस बँक घोटाले में बड़ी कंपनियों ने ६०,००० करोड़ रुपयों का घोटाला किया है। गौरतलब है कि वित्तीय संकट से गुजर रहे येस बैंक बोर्ड को आरबीआई ने हफ्ते भर पहले ही भंग कर चुका है। साथ ही कुछ मामलों को छोड़कर आरबीआई ने बैंक से निकासी की रकम पर भी सीमा तय कर दी है। शीर्ष बैंक के आदेशानुसार, यस बैंक से सिर्फ 50 हजार रुपए ही निकाले जा सकते हैं। हालांकि, ये सीमा तीन अप्रैल, 2020 तक के लिए है।

इस मामले में सीबीआई ने बीते सोमवार को यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर की पत्नी और तीन बेटियोंं के खिलाफ रिश्वत लेने के आरोपों के तहत मामला दर्ज कर दिया। साथ ही उनके परिवार को कथित तौर पर रिश्वत देने के मामले में मुंबई में सात स्थानों पर छापेमारी भी की। सीबीआई ने उनके परिवार के सदस्यों समेत सात आरोपियों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर (एलओसी) भी जारी किया है ताकि वे देश छोड़कर नहीं जा सकें। यह मामला घोटालों में घिरी डीएचएफएल द्वारा कपूर परिवार को कथित तौर पर 600 करोड़ रुपये की रिश्वत देने से जुड़ा है।