17 जुलाई को साबित करना पड़ सकता है बहुमत, एचडी कुमारस्वामी क्या हैं तैयार?

विधायकों के इस्तीफे के बाद से संकट में घिरी हुई है कर्नाटक सरकार, विधानसभा अध्यक्ष ने विधायकों का इस्तीफा मंजूर करने से कर किया मना

17 जुलाई को साबित करना पड़ सकता है बहुमत, एचडी कुमारस्वामी क्या हैं तैयार?

बेंगलुरु 
कर्नाटक में सियासी उठापटक के बीच बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश 17 जुलाई को एचडी कुमारस्वामी सरकार को बहुमत साबित करने के लिए कह सकते हैं। रमेश ने मंगलवार को कांग्रेस और जेडीएस के सभी 13 विधायकों के इस्तीफों को मंजूर करने से मना कर दिया। 
बता दें कि कर्नाटक में विधायकों के इस्तीफे के बाद से ही कुमारस्वामी सरकार संकट में घिरी हुई है।

उधर, बीजेपी इस राजनितिक मौके को अपने पक्ष में करने के लिए जुटी है। बुधवार को बीजेपी के नेता इस मामले में हस्तक्षेप के लिए राज्यपाल से भी मिलने वाले हैं। इस बीच अब यह अहम खबर सामने आई है कि कुमारस्वामी को 17 जुलाई को बहुमत साबित करने के लिए बुलाया जा सकता है। 

स्पीकर ने कहा, स्पष्टीकरण दें विधायक 
इससे पहले मंगलवार को स्पीकर ने यहां कहा कि इनमें से आठ विधायकों के इस्तीफे निर्धारित प्रारूप में नहीं हैं और पांच अन्य को यह स्पष्टीकरण देने की जरूरत है कि उनका यह कदम क्यों नहीं दल बदल विरोधी कानून के दायरे में आता है। उन्होंने कहा कि इन विधायकों को इस्तीफों को फिर से दाखिल करने और इनकी वजहों का खुलासा करने के लिए 21 जुलाई तक का समय दिया गया है। इन 13 विधायकों में से 10 कांग्रेस के और तीन जेडीएस के हैं। 

रामलिंगा को बागियों का प्रमुख माना जा रहा 
सूत्रों ने बताया कि इस्तीफा देने वाले कांग्रेस विधायक रामलिंगा रेड्डी को बागियों में से प्रमुख माना जा रहा है। उन्होंने और उनकी कांग्रेस विधायक बेटी सौम्या रेड्डी ने मंगलवार को दिल्ली में कांग्रेस नेता और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात भी की। 

बीजेपी कुमारस्वामी के इस्तीफे पर अड़ी 
उधर, बीजेपी कुमारस्वामी के इस्तीफे की मांग पर अड़ी हुई है। इसे लेकर पार्टी बुधवार को विधानसभा के बाहर प्रदर्शन भी करेगी। वहीं राज्यपाल से भी मुलाकात की तैयारी है। बीजेपी नेता अरविंद लिंबावली ने कहा है कि राज्यपाल और स्पीकर से मिलने के बाद पार्टी आगे कदम उठाएगी।