फ्लोर टेस्ट या राज्य सभा का चुनाव हो, कॉंग्रेसी विधायकों की लॉटरी, "चलो जयपुर" अभियान गुजरात मे शुरू

गुजरात के 37 कांग्रेस विधायक राजस्थान में, अहमदाबाद से 21 और विधायक जयपुर पहुंचे। इस नए कार्यक्रम से सिर्फ यही साबित होता है जैसे किसी भी कॉंग्रेस नेतृत्व को अपने विधायकों पर भरोसा नहीं है। क्या कॉंग्रेस मे भी भ्रस्टाचार व्याप्त है या आइडिलिओजी की शक्ति मे कमी आ गयी है।

फ्लोर टेस्ट या राज्य सभा का चुनाव हो, कॉंग्रेसी विधायकों की लॉटरी, "चलो जयपुर" अभियान गुजरात मे शुरू

जयपुर/अहमदाबाद. गुजरात में राज्यसभा की 4 सीटों पर होने वाले चुनाव में हॉर्स ट्रेडिंग के डर से कांग्रेस ने अपने 58 विधायकों को जयपुर के शिव विलास रिजॉर्ट में शिफ्ट कर दिया है। सोमवार सुबह तक सभी विधायक यहां थे। 4 विधायक बलदेव ठाकोर, सीजे चावड़ा, विमल चुडासमा और हिम्मत पटेल दोपहर 12.10 बजे रिजॉर्ट से बाहर निकले। इसके बाद तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गईं। दोपहर 2.50 बजे सभी विधायक वापस लौट आए। वे राजस्थान पुलिस के बंदोबस्त में जयपुर शहर की तरफ घूमने निकले थे। गुजरात से पार्टी के 14 विधायक शनिवार को 23 विधायक रविवार को और 21 विधायक सोमवार को जयपुर आए।

गुजरात कांग्रेस के 21 विधायक पहुंचे जयपुर, अब यहां 59 एमएलए
गुजरात के 21 विधायक सोमवार को जयपुर पहुंचे। इन्हें एयरपोर्ट से होटल शिव विलास ले जाया गया। इनमें विधायक विक्रम माडम, भिखा भाई जोशी, इमरान खेड़ा वाला, ज्ञासुद्दीन शेख, कांति खराड़ी, बृजेश मिर्जा, महेश पटेल, मोहम्मद पीरजादा, अश्विन कोटवाल, सुखराम राठवा, रघु देसाई, अनिल जोशियारा, निरंजन पटेल, गुलाब सिंह राजपूत, मोहन राठौवा, विरजि ठुमर, पूजा वंश, भरत जी ठाकुर, पीडी बसावा, ललित कगथरा, प्रताप दुधात शामिल हैं। अब तक जयपुर में गुजरात के 58 कांग्रेस विधायक आ चुके हैं।

स्पीकर ने 5 विधायकों के इस्तीफे मंजूर किए, इसके बाद कांग्रेस ने उन्हें पार्टी से सस्पेंड किया
गुजरात कांग्रेस के 5 विधायक प्रवीण मारू, मंगल गावित, सोमाभाई पटेल, जेवी काकड़िया और प्रद्युम्न जडेजा ने इस्तीफा दिया था। इनके इस्तीफे विधानसभा स्पीकर राजेंद्र त्रिवेदी ने सोमवार को मंजूर कर लिए। इसके बाद कांग्रेस ने इन नेताओं को पार्टी से निलंबित कर दिया। इन विधायकों के अलावा कनुभाई बारैया, चिराग कालरिया, हर्षद रिबड़िया, अक्षय पटेल और जीतू चौधरी कांग्रेस के संपर्क में नहीं है। हालांकि, जब इन विधायकों से भास्कर ने बात की तो सभी ने भाजपा में जाने की अटकलों को गलत बताया। 

रविवार रात आए 23 विधायक
गुजरात से रविवार रात यहां कांग्रेस के 23 में से 19 विधायक पहुंचे थे। इनमें धोराजी विधायक ललित वसोया, पाटन से किरीट पटेल, सोमनाथ से विमल चुडासमा, मंगरोल से बाबू वाजा, गांधीनगर उत्तर से सीजे चावड़ा, मोदासा से राजेंद्र ठाकोर, देवदार से शिवा भूरिया, जसु पटेल, दासादा से नौसाद सोलंकी, कलावाड़ से प्रवीण मुछडीया, तलाजा से कनु बारैया, आनंद से कांति परमार, कपाड़वंज से कालू डाभी, झालोद से भावेश कटारा, दाहोद से वजे सिंह पाणेद्रा, गरबादा से चंद्रिका बारैया, पदरा से जसपाल ठाकोर, करजान से अक्षय पटेल, संदेश सोलंकी शामिल हैं।

शनिवार रात को ये 14 विधायक राजस्थान पहुंचे
शनिवार रात को कांग्रेस के जो 14 विधायक जयपुर पहुंचे, उनमें लखाभाई भरवाड़ (वीरमगाम), पूनम परमार (सोजित्रा), जिनी बेन ठाकोर (वाव), चंदनजी ठाकोर (सिद्धपुर), रित्विक मकवाना (चोटिला), चिराग कालरिया (जामजोधपुर), बलदेव ठाकोर (कलोल), नाथाभाई पटेल (धनेरा), हिम्मतसिंह पटेल (बापूनगर), इंद्रजीत ठाकोर (महुधा), राजेश गोहिल (ढांढुका), हर्षद रिबदिया (विसावदर), अजीत सिंह चौहान (बालासिनोर) और कांति परमार (ठासरा) शामिल हैं।

कांग्रेस के 5 विधायकों के इस्तीफे मंजूर होने के बाद स्थिति
गुजरात विधानसभा में सीटें
 = 180
5 विधायकों के इस्तीफे के बाद बची सीटें = 175
भाजपा+ (भाजपा 103+ 1 राकांपा + 2 भारतीय ट्रायबल पार्टी) = 106
कांग्रेस+ (कांग्रेस 68+1 जिग्नेश मेवाणी) = 69
गुजरात में राज्यसभा की कितनी सीटों पर चुनाव = 4
गुजरात में राज्यसभा की एक सीट जीतने के लिए जरूरी = 36

पहला समीकरण : भाजपा 2 और कांग्रेस 1 सीट आसानी से जीत लेगी। 
दूसरा समीकरण : अगर कांग्रेस के 2 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग कर दी तो भाजपा 3 सीटें जीत लेगी। भाजपा के पास 106 विधायक हैं। 3 राज्यसभा सीटें जीतने के लिए उसे 2 और वोट चाहिए जो उसे क्रॉस वोटिंग करने वाले 2 विधायकों से मिलेंगे।
तीसरा समीकरण : अगर किसी विधायक ने क्रॉस वोटिंग नहीं की तो भी भाजपा के तीसरे उम्मीदवार के पास जीत के लिए जरूरी 36 वोटों से भी ज्यादा कुल 72 वोट होंगे। ये वोट दूसरी वरीयता वाले होंगे। कांग्रेस उम्मीदवार के पास दूसरी वरीयता वाले वोट 36 ही रहेंगे। ऐसे में वोटों की संख्या भाजपा के पास ज्यादा होने की वजह से उसका तीसरा उम्मीदवार भी जीत सकता है।

4 राज्यसभा सीटों पर 3 समीकरण, भाजपा का पलड़ा भारी
भाजपा ने अभय भारद्वाज, रमीवा बेन बारा और नरहरि अमीन को प्रत्याशी बनाया है। कांग्रेस ने शक्ति सिंह गोहिल और भरत सिंह सोलंकी को उम्मीदवार बनाया है।