इटली मे कोरोनावायरस से एक दिन में मरने वालों का आंकड़ा 168, 6 करोड़ लोग घरों में कैद

कोरोनावायरस से चीन के बाद इटली सबसे ज्यादा प्रभावित है, यहां 10149 लोग इससे संक्रमित हैं देश में अब तक 631 लोगों की मौत हो चुकी है, स्कूल-कॉलेज, बाजार, सड़कें और एयरपोर्ट खाली पड़े हैं |

इटली मे कोरोनावायरस से एक दिन में मरने वालों का आंकड़ा 168, 6 करोड़ लोग घरों में कैद

मिलान/रोम.  कोरोनावायरस से चीन के बाद इटली सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां अब तक 10,149 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। मंगलवार को यहां 168 लोगों की मौत हुई। यह एक दिन में मरने वालों का सबसे ज्यादा आंकड़ा है। इससे पहले रविवार को एक दिन में इटली में 132 लोगों की मौत हुई थी। बुधवार सुबह तक देश में 631 लोगों की जान जा चुकी है। कोरोनावायरस से 109 देशों में 1 लाख 13 हजार 255 व्यक्ति संक्रमित हैं। 20 से ज्यादा देशों में 3964 लोगों की मौतें हो चुकी हैं। 

सड़कें खाली

इटली में कोरोनावायरस के कहर के बाद सरकार ने सभी स्कूलों और विश्वविद्यालयों को 15 मार्च तक के लिए बंद करने का फैसला किया है ताकि लोग एक साथ समूहों में न जुटें। लोगों से घरों में रहने को कहा जा रहा है।

सरकार सख्त, लोगों के मूवमेंट पर नजर

इटली में लोगों को इमरजेंसी में बाहर जाने दिया जा रहा है। सरकार ने पुलिस को हिदायत दी है कि लोगों को घरों से आपात स्थिति या जरूरी काम होने के बाद ही जाने दिया जाए। इसके लिए जगह-जगह चेक प्वाइंट बनाए गए हैं।

300 से ज्यादा सेंटर बनाए गए 
इटली ने कोरोनावायरस से निपटने के लिए देश के सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखा है। वहीं, 300 से ज्यादा सेंटर बनाए गए हैं, जहां संक्रमित मरीजों को रखा जा रहा है। 

सेना तैनात 

इटली के मिलान, रोम, ट्यूरिन और सिसिलिया समेत सभी बड़े शहरों में सेना को तैनात किया गया है। जवान लोगों पर नजर रख रहे हैं।

मेट्रो, रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट खाली 

इटली में ट्रैवल पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है। लोगों को जरूरी होने पर यात्रा करने दी जा रही है। इन्हें हिदायत दी जा रही है कि वे एक दूसरे से करीब 3.3 फीट दूर रहें। मास्क और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। फिर भी लोग ऐसा नहीं कर रहे हैं। कई इलाकों से इस तरह की शिकायत भी मिल रही है।

बाजार बंद 

पूरे इटली में पिछले 15 दिनों से बाजार बंद हैं।